सफ़र की दुआ हिंदी में | safar ki dua in hindi 2023

Safar Ki Dua

       अस्सलामु अलैकुम प्यारे दोस्तों, क्या आप किसी सफ़र पर जा रहे हैं ?? या आप किसी सफ़र पर जाना चाहते हैं ?? तो दोस्तों आज हम आपको safar ki dua बताएंगे जिसको पढ़कर आप आसानी से किसी भी सफर में जा सकते हो।

दोस्तों सफ़र में आप ये दुआ ज़रूर करें इंशा अल्लाह ताला आप सफर में हादसात से मेहफूज रहेंगे और आपका सफ़र खैर व आफियत से गुजरेगा चाहे आप बाइक से सफर कर रहे हों या कार से सफर कर रहे हों या जहाज़ से सफर कर रहे हों |

दोस्तों ये दुआ के करने से आपको सफ़र में होने वाली दुश्वारियों और मुश्किलात का सामना नहीं करना पड़ेगा इसके अलावा सफ़र में आपको थकान भी बहुत कम मेहसूस होगी इंशा अल्लाह| ये मसनून दुआ है ये दुआ हर कोई बंदा कर सकता है इसके लिए कोई इजाजत की जरूरत नहीं है आप इस दुआ को ज़रूर याद करें और इसको अपना मामूल बना लें किसी भी सफ़र में जाते हुऐ, या गाड़ी पर जब भी आप सवार हों तो ये दुआ पढ़ लिया करें।

दोस्तों safar ki dua पढ़ना सुन्नत है| जब हमारे प्यारे नबी करीम सल्लाहू अलैहि वसल्लम सफ़र के लिए सवारी पर सवार होते तो 3 बार अल्लाहु अकबर कहते और safar ki dua पड़ते थे|

यह safar ki dua क़ुरान पाक में मोजूद है surah Az-zukhruf , आयत 13 -14 में, इस दुआ को पढ़ने के लिए एक मिनट से भी कम समय लगेगा। लिहाजा इस दुआ को ज़रूर पढें।

 

dua

 

अगर आप इसे पढ़कर सफर के लिए निकलते हैं तो, इंशाअल्लाह ,अल्लाह ताला आपको तमाम परेशानियों से दूर रखेंगे और आपका सफ़र आसान कर देंगे। आप चाहें तो इस दुआ के शुरु में और आखिर में दरूद शरीफ़ और आयतल कुर्सी पढ़ सकते हैं। या तीसरा कलमा तमजीद भी पढ़ सकते हैं |

 

सफ़र की दुआ हिंदी में | safar ki dua in Hindi

सुब्हानल्लज़ी सख्खर लना हाज़ा वमा कुन्ना लहू मुक़रिनीन, व इन्ना इला रब्बीना लमुनक़लिबून.

अल्लाह ताला पाक है जिसने इस सफ़र को हमारे कब्जे में दे दिया, उसकी कुदरत के बिगैर हम इसपर काबू नहीं कर पाते।  

 

safar ki dua

 

सफ़र की दुआ अरबी में | safar ki dua in Arabic

بِسْمِ اللَّهِ الرَّحْمَنِ الرَّحِيم

.سُبْحَانَ الَّذِي سَخَّرَ لَنَا هَـٰذَا وَمَا كُنَّا لَهُ مُقْرِنِينَ وَإِنَّا إِلَىٰ رَبِّنَا لَمُنقَلِبُونَ 

 اللہ تعالٰی پاک ہے! جس نے یہ سفر ہمارے کنٹرول میں دیا ہے ، اس کی قدرت کے بغیر ہم اس پر قابونہیں پا سکتے تھے۔

 

safar ki dua in arabi  

 

सफ़र की दुआ इंग्लिश में | safar ki dua in English

Subhanallazi Sakhkharlanaa Haaza Wamaa Kunna Lahu Muqrineen Wa Inna ilaa Rabbina Lamun Qaliboon.

Allah is Pak, who has given this journey under our control, without his nature we would not have been able to control it.  

 

safar ki dua in english  

 

प्यारे दोस्तों यह safar ki dua आपको हर सफ़र में पढ़ना चाहिए। और इसे याद भी कर लेना चाहिए। यह दुआ काफ़ी छोटी है। इसे पढ़ने में ज्यादा समय नहीं लगता है। आपको हमारे website में दुआ ए क़ुनूत भी मिल जाएगी|

प्यारे दोस्तों क्या आपको इस्लाम में सफ़र के वो आदाब (Safar ke Adaab) मालूम हैं ??? जिनको Follow करके हम अपने सफ़र को अचानक आने वाले हादसों और ख़तरों से महफूज़ बना सकते हैं| और साथ ही साथ सुन्नत भी अदा कर सकेंगे|

सफ़र में जो बातें सुन्नत हैं वो यहाँ पर बताई गई हैं

  • जुमेरात के दिन सफर शुरू करना पसंदीदा (पसंद किया गया) है (बुखारी शरीफ)
  • सुबह सवेरे सफर करना मुबारक (बरकत का सबब ) है (मिशकात शरीफ)
  • जोहर के बाद सफर करना भी नबी करीम (सल्लल लाहु अलैहि वसल्लम) से साबित है आप ने हज्जतुल विदा के सफर के लिए निकले थे तो उस सफ़र की इब्तिदा जोहर के बाद फरमाई (बुखारी शरीफ)
  • बेहतर है कि सफर से पहले कोई बेहतर रफीक़े सफर (साथी) तलाश कर लिया जाए ताकि वह जरूरत के वक्त मददगार और सामान की हिफ़ाज़त करने वाला हो
  • जब सफर में कई साथी हो तो बेहतर है कि उनमें जो शख्स सबसे ज्यादा समझ बूझ रखता हो उसे अमीर बना लिया जाए|
  • सफर के लिए घर से निकलने से पहले 2 रकात नफ्ल पढ़ना मनून है नबी अकरम (सल्लल लाहु अलैहि वसल्लम) ने इरशाद फरमाया : घर से निकलते वक्त 2 रकात नमाज पढ़ लो तो सफर की तमाम ना पसंदीदा बातों से महफ़ूज़ रहोगे (बुखारी शरीफ)
  • जब कोई सफर के लिए घर से निकले तो उसके घर वाले या रिश्तेदार उस से यह दुआइया कलमात कहें
  • सफर में जाने वाले से दुआ की दरखास्त भी साबित है इसलिए कि मुसाफिर की दुआ कबूल होती है
  • अगर कोई दुश्वारियां या उज्र ना हो तो सफर में बीवी को साथ जाना मनून है इसमें आसानी के साथ नफ्स की भी हिफाजत रहती है
  • जब काम पूरा हो जाए तो जल्द से जल्द सफर से वापस हो ना चाहिए (बुख़ारी शरीफ़ )
  • सफ़र से वापसी पर घर वालों के लिए कुछ तोहफा और हदिया लाना सुन्नत है
  • वापस होकर मस्जिद में जाकर या अपने घर में 2 रकात नमाज पढ़ना सुन्नत है
  • सफ़र से वापसी पर मुआक़ा (गले लगना) सुन्नत है
  • सफर की दुआ और सफ़र की हालत में ज़िक्रो अकार व मसरूफियत में वक्त गुजारना चाहिए क्यूंकि एक रिवायत में है कि जो शख्स सफर में जिक्र में लगा रहता है तो फरिश्ते उसके हमसफर होते हैं और अगर इस के अलावा बेकार चीज़ों में मशगूल होता है तो शैतान उसके सफ़र का साथी बन जाता है

  safar करने से पहले, सफर की नियत करना इस्लाम में एक पत्ता अमल माना गया है. इसके अलावा अपनों से मुलाकात करना भी सुन्नत माना गया है | सुब्हान अल्लाह! अल्लाह से दुआ है के आप लोगों का सफ़र हमेशा खुशगवार और खैर व आफियत से गुजरे। आप लोगों से गुज़ारिश है के हमे अपनी दूआओं में याद रखें।

हमने किसी भी गलती से बचने की पूरी कोशिश की है, लेकिन अगर किसी को safar ki dua या अनुवाद में कोई गलती मिलती है या कोई और गलती है तो हमें ज़रूर बताएं ताकि हम उसके अनुसार बदलाव कर सकें।

प्यारे दोस्तों अगर आपको इस website से थोड़ी सी भी मदद मिली है तो हमें कमेंट में ज़रूर बताएं| अस्सलामुअलैकुम वरहमतुल्लाहे व बरकातहू !

FAQ

सफर की दुआ कौन सी है?

सुब्हानल्लज़ी सख्खर लना हाज़ा वमा कुन्ना लहू मुक़रिनीन, व इन्ना इला रब्बीना लमुनक़लिबून.

अल्लाह ताला पाक है जिसने इस सफ़र को हमारे कब्जे में दे दिया, उसकी कुदरत के बिगैर हम इसपर काबू नहीं कर पाते। आमीन|

 

यात्री के लिए दुआ कैसे बनाते हैं?

आप किसी यात्रा (safar) पर जा रहे हैं तो अल्लाह ताला से ऐसे दुआ करें के अल्लाह ताला पाक है जिसने इस सफ़र को हमारे कब्जे में दे दिया, उसकी कुदरत के बिगैर हम इसपर काबू नहीं कर पाते। आमीन|

 

ट्रैवलिंग इंग्लिश के लिए दुआ क्या है?

Subhanallazi Sakhkharlanaa Haaza Wamaa Kunna Lahu Muqrineen Wa Inna ilaa Rabbina Lamun Qaliboon.

Allah is Pak, who has given this journey under our control, without his nature we would not have been able to control it.

 

 

3 thoughts on “सफ़र की दुआ हिंदी में | safar ki dua in hindi 2023”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *